Thursday, September 8, 2016

इस महिने की विशेषता

-महावीर सांगलीकर 
न्यूमरॉलॉजिस्ट, पुणे  
08149703595

इस महिने (सितम्बर 2016)  किसी भी दिन जन्म लेनेवाले हर बालक का जो जन्मांक (मूलांक) होगा, वही उसका भाग्यांक होगा. जैसे कि 1 तारीख पर जन्म लेने वाले बालक जन्मांक 1 होगा, और भाग्यांक भी 1 होगा. इसी प्रकार 15 तारीख पर जन्म लेनेवाले बालक का जन्मांक 1+5=6 होगा और भाग्यांक भी 6 होगा. यह बात इस महिने की हर तारीख पर लागू होती है.

ऐसा क्यों?
भाग्यांक पाने के लिए दिन, महिने और वर्ष के सभी अंको को मिलाया जाता है. यह सितंबर महिना है जिसका अंक 9 है और 2016 इस वर्ष का अंक भी 9 है. (2016= 2+0+1+6=9). इस 9 अंक की विशेषता यह है कि इसे किसी भी अंक में मिलाने पर उस आनेवाले योग की अंकशास्त्रीय कीमत वही रहती है. जैसे 7+9=16=1+6=7, 8+9=17=1+7=8.

अब भाग्यांक पाने के लिए इस महिने की किसी भी तारीख में 9 (महिने का अंक) + 9 (वर्षांक) मिलाने पर उसकी कीमत उस मूल अंक जितनी ही रहेगी.
भाग्यांक और जन्मांक समान होने के कारण उस व्यक्ति में उस अंक की विशेषतायें (गुणदोष) बड़े पैमाने पर विकसित होंगे.



No comments:

Post a Comment